सत्य की विजय

जहाँ गाय होती है वहाँ राक्षस जरूर आता है, लेकिन वहाँ गाय की रक्षा के लिए, उसे बचाने के लिये श्री कृष्ण परमात्मा भी आते है । तातपर्य यह है कि जब कोई इन्सान नेकी के रास्ते पर चलता है तो उसमें अनेकों विघ्न आते है फिर भी हमें सत्य मार्ग पर ही चलते रहना चाहिये ।परमात्मा नेकी का ही हमेशा साथ देते है तथा सच्चे इन्सान को अपने नजदीक रखता है । सत्य की सदा जीत होती है ।

3 thoughts on “सत्य की विजय

  1. Whenever someone follows path of truth, he or she will definitely have hurdles. Still one should stick to righteous path of truth.

    Like

  2. सत्य ज़मीन से थोड़ा सा ही ऊपर व् अत्याधिक धीमी गति से चलता है, किन्तु इसकी सदा ही विजय होती है,
    “सत्यमेव जयते”

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s